गर्ल्स होस्टल का यह सच जानकर उड़ जायेंगे आपके होश

लडकियों के छात्रावास के बारे मे कुछ ऐसी अनभिग्य और रोचक जानकारी

 

विश्व भर में लडकियों का छात्रावास ,एक वह स्थान हैं जहा आज़ादी ,और आनंद का ओवर डोज होता है . और मात्र यही नहीं बहुत से लोग आपसी वार्तालाप में यह जिक्र अवश्य करते है की लडकियों के छात्रावास में क्या और केसे होता होगा आज आपको हम लडकियों के छात्रावास के बारे मे कुछ ऐसी अनभिग्य और रोचक जानकारी देगे जो अपने छात्रवास मे अक्सर सभी लडकियां करती हैं|

छात्रावास में लडकियों का सबसे अच्छ समय अपनी सेल्फी लेने में व्यतीत होता है . अक्सर लडकिया कभी अकेले तो कभी ग्रुप बनाकर सेल्फी लेती ही रहती है |

घर से दूर अकेली छात्रावास मे रहने आई लडकियों का सबसे अभिन्न मित्र होती हैं उनके साथ रहने वाली छात्रा अर्थात रूममेट .अब चाहे किसी को प्यार हो जाये या किसी का प्यार में दिल टूट जाये दोनों एक दुसरे को नसीहत देने से नहीं चुकती |

गर्ल्स होस्टल में लडकियों को संगीत की कोई जानकारी नहीं होती परन्तु जैसे ही बाथरूम में जाएगी मानो इनके अंदर तानसेन की आत्मा अा गयी हो ….. तथा इनका लाऊडस्पीकर तेजी से बज उठता हैं . अब ये नहीं कहा जा सकता की अगर तानसेन इनका गाना धरती पर आकर सुन ले तो कही आत्महत्या न कर ले

अगर बात नारी जाती की जाये तो यह सिर्फ गर्ल्स होस्टल में नही वरन सम्पूर्ण नारी जाती की यह एक खास आदत होती है अगर कोई काम नही तो इधर उधर की तथ्यहीन बातें करना शुरू कर देती है . अब उसके लिए कितना समय लग जाये ये कहा नहीं जा सकता |

गर्ल्स होस्टल में प्रत्येक सुबह लडकियां अपनी अपनी अलमारियो के आगे खड़ी होकर 10 से 15 मिनट यह जरुर सोचने में लगाती हैं की आज क्या पहना जाये .और बहुत सोच विचार करने के बाद जब कुछ नही मिलता तो इनकी नजर दूसरी लड़की के कपड़ो पर जाती हैं ..और कपड़ो का आदान प्रदान यही से शुरू हो जाता हैं

लडकियों के छात्रावास में लडकिया अपने फिगर को लेकर बहुत चिंतित होती है इसलिए वह आपस में एक दुसरे के मोटे पतले होने का जिक्र अक्सर करती ही रहती हैं.अब अगर इस टॉपिक पर किसी ने बोल दिया की फिट रहने के लिए व्यायाम बहुत जरुरी है तब पुरे होस्टल की लडकिया जिम में जाना शुरू कर देती है .परन्तु सबसे बड़ी बात यह की अपने यह जिम ,कसरत और फिगर को लेकर हुई चिंता हद से हद एक हफ्ते में ही सिर्फ बातो में सिमट कर रह जाती हैं|

हर दिन जो गर्ल्स होस्टल में गहन चितन का विषय होता वो है. मेस में बना खाना .कभी सब्जी में नमक कम कभी दाल में पानी का ज्यादा होना इसी तरह की भोजन को लेकर लडकियों की शिकायते कभी ख़त्म नहीं होती |

गर्ल्स होस्टल में कई लडकिया अपने कमरे की सज्जा इस प्रकार करती हैं मानो ये कभी यहाँ से जाएगी ही नहीं और उम्रभर यही इनका निवास स्थान हैं ,और उस सज्जा में किसी मित्र या परिवार के फोटो लगाना जेसे एक रिवाज सा बन गया हो |

मैगी पर लगा प्रतिबंध गर्ल्स होस्टल की लडकियों के लिए उन पर हुए किसी जुल्म से कम नही है |

अब यह जरुरी तो नहीं की मिस वर्ल्ड का ताज सभी लडकियों को मिले परन्तु गर्ल्स होस्टल की अधिकतर लडकिया खुद को किसी अभिनेत्री या मॉडल से कम नही समझती हैं. गर्ल्स होस्टल में जब डांस सेशन या मोडलिंग की प्रतियोगिताओ का आयोजन होता है तब यह नजर देखने लायक होता हैं ,जिसका आयोजन अक्सर खाने के बाद ही शुरू होता हैं ,इसको देखकर तो हर कोई अपने दांतों तले ऊँगली दबाने पर मजबूर हो जाये |

गर्ल्स होस्टल के हर कोने में लडकिया फोन पर बातें करती दिखाई देती हैं .अब बातो की अवधि कितनी हो ये नही कहा जा सकता कभी कभार तो सुबह से लेकर शाम भी हो जाती हैं |

अगर आप सोचते है की फेसबुक पर सिर्फ लड़के लड़कियों का पीछा करते हैं तो आप गल्त हैं….क्योकि ये समान लक्षण लडकियों में भी होते है …..परन्तु हमको इसका पता नहीं लग पाता |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top